यूपी पुलिस का बेरहम चेहरा आया सामने, युवक को जानवरों की तरह पीटा

आरोपित के कब्जे से 740 रुपये और एक मोबाइल मिला

0
जगदीशपुरा ; पुलिस का बेरहम चेहरा सामने आया है। चार पुलिस कर्मी कठघरे में है। एक युवक को थर्ड डिग्री दी गई है जख्मी हालत में युवक बुधवार को एसएसपी के समक्ष पेश हुआ।वह बैठ नहीं पा रहा है।पुलिस ने उसकी खाल उधेड़ दी है आरोप है कि घर से बुलाकर दस लाख रुपये की डिमांड की गई। जुआ अधिनियम में चालान किया गया। 2.40 लाख रुपये लेकर थाने से जमानत पर छोड़ा गया। एसएसपी के आदेश पर एसपी क्राइम मामले की जांच कर रहे हैं।
बीघानगर निवासी जितेंद्र सिंह राठौर एसएसपी के समक्ष पेश हुआ था। बताया कि 16 अप्रैल की रात नौ बजे सिपाही निशांत उसके घर आया। उससे कहा कि दरोगा आजाद उसे बोदला चौकी पर बुला रहे हैं। निशांत पहले जगदीशपुरा थाने में तैनात था। वर्तमान में ट्रैफिक में है। वह निशांत के साथ बोदला चौकी पर आ गया। वहां सिपाही रविंद्र, दरोगा आजाद और विनीत राणा मौजूद थे।
उसे जबरन एक गाड़ी में डाल लिया उससे कहा कि दस लाख रुपये चाहिए। इनकार करने पर उसे बेरहमी से पीटा बिचपुरी चौकी पर ले गए। वहां हाथ बांधकर बेरहमी से डंडों और पट्टे से पीटा। वह बेहोश हो गया। जब होश आया तो थाने में था। पुलिस उसे एनडीपीएस में जेल भेजने की धमकी दे रही थी। पीड़ित का आरोप है कि उसने घरवालों से मंगाकर दो लाख रुपये रविंद्र को दिए। 40 हजार रुपये दरोगा राणा ने लिए तब उसे हॉस्पिटल भेजा।
जगदीशपुरा पुलिस ने बताया कि जितेंद्र सिंह राठौर क्रिकेट का बुकी है। पुलिस ने उसे सट्टेबाजी में पकड़ा था। उसका एक साथी भाग गया। आरोपित के कब्जे से 740 रुपये और एक मोबाइल मिला। उसे थाने से जमानत पर छोड़ा गया है।

By – Riyaz Ahmad

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here